मुख्यमंत्री ने गीतकार श्रीवास्तव के निधन पर जताया गहरा दुःख

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रदेश के सुप्रसिद्ध गीतकार और कहानीकार नरेन्द्र श्रीवास्तव के निधन पर गहरा दुःख व्यक्त किया है। बघेल ने कहा कि उनके देहावसान से छत्तीसगढ़ ने एक बड़े साहित्यकार को हमेशा के लिए खो दिया है। मुख्यमंत्री ने शुक्रवार को जारी शोक-संदेश में कहा है कि जांजगीर-चांपा जिले के निवासी लोकप्रिय गीतकार स्वर्गीय श्रीवास्तव ने लगभग 60 वर्षों तक अपनी साहित्य साधना से देश और समाज को सही दिशा देने का प्रयास किया। कवि सम्मेलनों के मंचों पर और विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं में मानवीय संवेदनाओं पर आधारित अपने गीतों से उन्होंने साहित्य जगत में छत्तीसगढ़ की पहचान बनाई और अपार लोकप्रियता हासिल की। ज्ञा

वरिष्ठ कार्टूनिस्ट तैलंग का निधन

वरिष्ठ कार्टूनिस्ट तैलंग का निधन

रायपुर के वरिष्ठ कार्टूनिस्ट शंकर राम चन्द्र तैलंग (88) का आज शुक्रवार को निधन हो गया। वे जी आर तैलंग, ब्रजेश तैलंग और शैलबाला गोस्वामी के पिता थे। उनका अंतिम संस्कार महादेव घाट मुक्तिधाम मे शाम को किया गया। कार्टूनिस्ट त्रयम्बक शर्मा ने समस्त कार्टूनिस्ट बिरादरी की तरफ़ से उनको विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित की है।

महंत ने पत्रकार असावा के निधन पर गहरा दु:ख व्यक्त किया

महंत ने पत्रकार असावा के निधन पर गहरा दु:ख व्यक्त किया

छत्तीसगढ़ विधानसभा अध्यक्ष डॉ चरणदास महंत ने वरिष्ठ पत्रकार, प्रधान संपादक, किशन असावा के निधन पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए श्रद्धांजलि अर्पित की है। उन्होंने कहा कि स्वर्गीय असावा ने पत्रकारिता के माध्यम से समाजहित राष्ट्रहित के उत्थान में अहम भमिका निभायी। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति दे अपने श्री चरणों में स्थान प्रदान करें।

आत्मविश्वास से आगे बढ़ते बच्चे देश और समाज की ताकत : महापौर

यूनिसेफ छत्तीसगढ़ एवं राष्ट्रीय सेवा योजना के संयुक्त आयोजन में एक दिवसीय बाल मेला का आयोजन प्रेक्षागृह, पंडित रविशंकर विश्वविद्यालय में किया गया। जिसमें एन.एस.एस.

कर्जमाफी से खुश चायवाले ने सबको पिलाई मुफ्त में चाय

कर्जमाफी से खुश चायवाले ने सबको पिलाई मुफ्त में चाय

छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार बनते ही सबसे पहले कैबिनेट की बैठक में किसानों की कर्जमाफी घोषणा की गई थी। कर्जमाफी से किसानों में काफी खुशी है। इसी कड़ी में राजधानी से करीब 49 किलोमीटर दूर स्थित कुरुद ब्लॉक के ग्राम भाठागांव में स्थित आकाश होटल ने कर्जमाफी के दिन को यादगार बनाने आज 18 जनवरी को अपने ग्राहकों सहित सभी को मुफ्त में चाय पिलाने का निर्णय लिया है। इसके लिए बाकायदा होटल संचालक ओमप्रकाश साहू ने बैनर-पोस्टर भी लगा रखा है। होटल के संचालक ओमप्रकाश साहू ने वीएनएस से हुई बातचीत में बताया कि वे इस तरह के आयोजन करते ही रहते हैं।

राज्य के विकास के लिए खनिज संसाधनों का बेहतर उपयोग हो : मुख्यमंत्री

राज्य के विकास के लिए खनिज संसाधनों का बेहतर उपयोग हो : मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में यहां मंत्रालय (महानदी भवन) में छत्तीसगढ़ खनिज विकास निगम के संचालक मण्डल की बैठक हुई। उन्होंने राज्य के विकास और हित को ध्यान में रखते हुए खनिज संसाधनों के सही ढंग से दोहन तथा बेहतर उपयोग करने के संबंध में आवश्यक निर्देश दिए।

जल आवंटन के पूर्व स्थल परीक्षण और भौतिक सत्यापन के निर्देश

जल आवंटन के पूर्व स्थल परीक्षण और भौतिक सत्यापन के निर्देश

मुख्य सचिव सुनील कुमार कुजूर की अध्यक्षता में आज यहां मंत्रालय महानदी भवन में छत्तीसगढ़ राज्य जल संसाधन उपयोग समिति की 46वीं बैठक का आयोजन किया गया। मुख्य सचिव ने विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया है कि राज्य की नदियों से औद्योगिक प्रयोजन के लिए जल का आवंटन करने से पूर्व स्थल परीक्षण और भौतिक सत्यापन अनिवार्य रूप से किया जाए। उन्होंने कहा कि नदियों से पेयजल-निस्तार-सिंचाई के लिए जल का आवंटन करने के बाद ही इसका उपयोग अन्य प्रयोजन के लिए किया जाए। औद्योगिक प्रयोजन के लिए भू-जल का उपयोग न हो यह सुनिश्चित किया जाए और यदि ऐसा पाया जाता है तो संबंधित संस्थान के विरुद्ध दंडात्मक कार्रवाई की जाए।

छत्तीसगढ़ देसहा यादव समाज की बैठक 20 को

छत्तीसगढ़ देसहा यादव समाज के प्रवक्ता एवं मीडिया प्रभारी रामजी यादव ने बताया कि छत्तीसगढ़ देसहा यादव समाज के समान्य सभा की बैठक 20 जनवरी को दोपहर 12 बजे ग्राम चंदखुरी फार्म में होगी। बैठक में मुख्य रूप से सामाजिक चर्चा, परिचर्चा, सामाजिक व्यवस्था, नीति एवं समाज के प्रति नैतिक जिम्मेदारी एवं अन्य विषय पर विचार मंथन किया जाना है।

जनहित से जुड़े प्रकरणों को तत्परता से हल करने को प्राथमिकता देवें अधिकारीगण : विधायक

जनहित से जुड़े प्रकरणों को तत्परता से हल करने को प्राथमिकता देवें अधिकारीगण : विधायक

अधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों को जनसामान्य के हितो को ध्यान में रखते हुए अपने जिम्मेदारियों को निर्वहन करना होगा, क्योंकि दोनो एक दूसरे के पूरक है। इस क्षेत्र की सर्वोच्च आवश्यकता जैसे - शिक्षा, स्वास्थ्य, आवागमन, विद्युत, पेयजल जैसी मूलभूत सुविधाओं को हर ग्राम पंचायतों तक पहुंचाना, शासन की प्राथमिकता में है।‘‘ दिनांक 16 जनवरी को उक्ताशय के विचार विधानसभा केशकाल विधायक माननीय संतराम नेताम ने केशकाल के तहसील कार्यालय सभाकक्ष में जिला स्तरीय अधिकारियों की बैठक में कहा। बैठक के दौरान सभी विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी, जिले में पदस्थ तहसीलदार, सीईओ जनपद पंचायत और नगरीय निकायों के सीएमओ मौजूद थे।

पचपन से साठ एकड़ जमीन किसी रिकार्ड में नहीं?

पचपन से साठ एकड़ जमीन किसी रिकार्ड में नहीं?

जिले के विकास खन्ड छुरा अंतर्गत एक गांव की लगभग 55 से 60 एकड़ जमीन का कोई रिकार्ड शासन के पास नहीं है। ग्रामीणों के अनुसार इस जमीन का रिकार्ड ना वन विभाग के पास है और ना ही राजस्व विभाग के पास। हालॉकि पुरी जमीन कृषि योग्य है और 20 ग्रामीण इस पर विगत 70 वर्षों से काश्तकारी करते आ रहे हैं।