Political

Political News

संघ प्रमुख मोहन भागवत पहुंचे रायपुर, आदिवासी समाज में बीजेपी की कमजोर पड़ती नब्ज को दुरुस्त करने की बनाएंगे रणनीति

संघ प्रमुख मोहन भागवत पहुंचे रायपुर, आदिवासी समाज में बीजेपी की कमजोर पड़ती नब्ज को दुरुस्त करने की बनाएंगे रणनीति

चुनावी साल में आदिवासी समाज को साधने की जिम्मेदारी आरएसएस ने उठा ली है. संघ के अनुषांगिक संगठन वनवासी कल्याण आश्रम ने आदिवासी समाज की अस्मिता पर केंद्रित संगोष्ठी का आयोजन किया है, जिसमें शामिल होने संघ प्रमुख मोहन भागवत छत्तीसगढ़ पहुँच गए हैं. भागवत सुबह ट्रेन से रायपुर पहुँचने के बाद सीधे निमोरा रवाना हो गए, जहां संगोष्ठी में शामिल होंगे. इस संगोष्ठी को चिंतन शिविर बताया जा रहा है.

मुख्यमंत्री ने किया 173 करोड़ 37 लाख के कार्यों का लोकार्पण-भूमिपूजन

मुख्यमंत्री ने किया 173 करोड़ 37 लाख के कार्यों का लोकार्पण-भूमिपूजन

मुख्यमंत्री ने प्रदेश व्यापी विकास यात्रा में आज लोगों को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि मां दंतेश्वरी से आशीर्वाद लेकर विकास यात्रा का शुभारंभ किया। अब जनता-जनार्दन का आशीर्वाद लेने मुंगेली आया हूं। 12 मई से विकास यात्रा शुरू किया। आज 31 मई को मुंगेली पहुंचा हूं मुंगेली की सड़कों में उमड़ी भीड़ साबित कर दिया कि यहां की जनता ने मुझे हमेशा स्नेह और सम्मान दिया। महिलाओं और सभी वर्गो के लोगों ने अभूतपूर्व स्वागत किया है इसके लिए हृदय से आभारी हूं। मुख्यमंत्री शहीद धनंजय सिंह राजपूत स्टेडियम बीआरसाव उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में आमसभा में लोगों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कम्प्यूटर का बटन दबाकर 6

कांग्रेस के बाद अब बीजेपी ने जारी की कार्टून फिल्म ‘भूपु की ट्वीट खोज’, पीसीसी चीफ भूपेश बघेल पर किया जमकर हमला

कांग्रेस के बाद अब बीजेपी ने जारी की कार्टून फिल्म ‘भूपु की ट्वीट खोज’, पीसीसी चीफ भूपेश बघेल पर किया जमकर हमला

बीजेपी ने पीसीसी चीफ भूपेश बघेल पर व्यंग्यगात्मक वीडियो जारी किया है. वीडियो में बघेल के किरदार पर जमकर चुटकी ली गई है. दरअसल बीजेपी ने इस वीडियो के जरिए भूपेश बघेल द्वारा रोजाना रमन सरकार पर टारगेट करते हुए किए जा रहे ट्वीट को लेकर व्यंग्य कसा है. वीडियो में भूपेश बघेल को ट्वीट वाले बाबा करार दिया गया है.

कांग्रेस ने अपने शासन में कुछ काम तो किया नहीं, अब विकास का विरोध कर रहे हैं- सीएम रमन सिंह

कांग्रेस ने अपने शासन में कुछ काम तो किया नहीं, अब विकास का विरोध कर रहे हैं- सीएम रमन सिंह

विकास यात्रा के आज के पड़ाव में मुख्यमंत्री रमन सिंह बिलासपुर जिले के मस्तूरी पहुंचे. यहां उन्होंने कहा कि विकास यात्रा के जरिए वे किसानों को 1700 करोड़ का बोनस और 30 हजार करोड़ के विकास कार्यों की सौगात देने निकले हैं. दंतेवाड़ा से शुरू हुए इस सफर में उनका कारवां जहां पहुंच रहा है लोग उनका जोरदार तरीके से स्वागत कर रहे हैं. मुख्यमंत्री ने कहा कि एक तरफ हम लोगों को सौगात देने निकले हैं और दूसरी तरफ कांग्रेस इसका विरोध कर रही है. अजीब हालत है कांग्रेस की उसे विकास दिखता नहीं, कांग्रेस ने अपने 60-70 साल के कार्यकाल में कुछ किया नहीं और अब विकास का विरोध करती है.

भारी संख्या में लोन लेने बैंक पहुंचे कांग्रेसी, लेकिन बैंक में घुसने के पहले ही पुलिस ने उन्हें रोका, क्योकि…

भारी संख्या में लोन लेने बैंक पहुंचे कांग्रेसी, लेकिन बैंक में घुसने के पहले ही पुलिस ने उन्हें रोका, क्योकि…

पेट्रोल-डीजल की लगातार बढ़ती कीमतों का विरोध में आज राजधानी रायपुर में कांग्रेस द्वारा अनोखा प्रदर्शन किया गया. इस दौरान भरी संख्या में कांग्रेसी कार्यकर्ता बूढ़ापारा स्थित यूनाइटेड बैंक में पेट्रोल के लिए लोन लेने पहुंचे. लेकिन पुलिस ने इन कार्यकार्ता को बैंक के बाहर ही रोक दिया.

प्रदर्शन कर रहे कांग्रेसियों का कहना है कि पेट्रोल-डीजल की लगातार मूल्य वृद्धि हो रही है. जिससे छोटे-छोटे व्यापारियों को बहुत परेशानी हो रही है. कांग्रेसियों ने कहा कि लागों ने लोन पर गाड़ी तो ले लिया है, लेकिन पेट्रोल के दाम बढ़ने से पेट्रोल भरवाने के लिए उनके पास पैसे नहीं है, इसलिए अब पेट्रोल के लिए बैंक लोन दें.

CM डॉक्टर रमन सिंह का महत्वपूर्ण बयान, 5 जून तक हाई पावर कमेटी की रिपोर्ट आने के बाद शिक्षाकर्मियों के संविलियन पर लिया जाएगा निर्णय

संविलियन की मांग को लेकर सरकार की ओर टकटकी नजर लगाए बैठे प्रदेश के शिक्षाकर्मियों का इंतजार अब खत्म हो सकता है. मुख्यमंत्री डॉ.

संविलियन की मांग को लेकर सरकार की ओर टकटकी नजर लगाए बैठे प्रदेश के शिक्षाकर्मियों का इंतजार अब खत्म हो सकता है. मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा है कि 5 जून तक हाई-पावर कमेटी की रिपोर्ट आने के बाद संविलियन पर निर्णय ले लिया जाएगा. जाहिर है जिस तरह से मध्यप्रदेश में शिक्षाकर्मियों का संविलियन कर दिया गया है, इससे साफ है कि छत्तीसगढ़ सरकार भी शिक्षाकर्मियों का संविलियन करने में देरी नहीं करेगी. चुनावी साल में इसे सरकार का सबसे बड़ा दांव माना जा रहा है.

भूपेश का ट्वीट: बिलाईगढ़ के लोग विकास से भयभीत!

भूपेश का ट्वीट: बिलाईगढ़ के लोग विकास से भयभीत!

छत्तीसगढ़ में सीएम डॉ. रमन सिंह और पीसीसी अध्यक्ष भूपेश बघेल के बीच चल रहे विकास यात्रा बनाम विकास खोजों यात्रा में एक दिचस्प ट्वीट हुआ. ट्वीट किया भूपेश बघेल ने. बघेल का यह ट्वीट रमन सरकार के विकास को लेकर है. बघेल का कहना है रमन सरकार के विकास से बिलाईगढ़ के लोग भयभीत है. इस भय को बताने और दिखाने पीसीसी अध्यक्ष ने छत्तीसगढ़ कांग्रेस की ओर से अपलोड किए गए वीडियो को साझा किया है.

कैलाश विजयवर्गीय पहुंचे रायपुर, कहा- छत्तीसगढ़ में भाजपा की है मजबूत स्थिति, चुनाव में कांग्रेस और जनता कांग्रेस को है चिंता करने की जरूरत

कैलाश विजयवर्गीय पहुंचे रायपुर, कहा- छत्तीसगढ़ में भाजपा की है मजबूत स्थिति, चुनाव में कांग्रेस और जनता कांग्रेस को है चिंता करन

भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय आज रायपुर पहुंचे. जहां एयरपोर्ट पर विधायक श्री चंद सुंदरानी सहित कार्यकर्ताओं ने उनका स्वागत किया. विजयवर्गीय आज भाजपा कार्यालय में होने वाली बैठक की अध्यक्षता करने पहुंचे हुए है. इस बैठक में संगठन की जवाबदारी की समीक्षा की जाएगी साथ ही अमित शाह द्वारा पार्टी को दिये गये कामों की भी समीक्षा विजयवर्गीय करेंगे. बतादें कि 10 जून को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के अंबिकापुर में होने वाली चुनावी सभा से विजयवर्गीय का यह दौरा काफी अहम मना जा रहा है.

…तो सीएम लागू करें न क्यों नहीं करते? शिक्षाकर्मियों के मामले में बोले टीएस सिंहदेव

…तो सीएम लागू करें न क्यों नहीं करते? शिक्षाकर्मियों के मामले में बोले टीएस सिंहदेव

शिक्षाकर्मियों के संविलियन के मुद्दे पर मुख्यमंत्री के बयान के बाद सियासत गरमा गई है. सीएम के बयान पर नेता-प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव ने चुटकी लेते हुए तंज कसा है. शिक्षाकर्मियों की मांग और संविलियन का समर्थन करने वाले सिंहदेव ने कहा कि अगर मुख्यमंत्री कहते हैं कि संविलियन का हल निकाल लिया गया है तो संविलियन लागू करें. सालों से शिक्षाकर्मियों की मांग को मुख्यमंत्री लटकाकर क्यों रखे हैं? शिक्षाकर्मी बार-बार आंदोलन को मजबूर हो रहे हैं, मैंने कई पत्र लिखें है. लेकिन सरकार शिक्षाकर्मियों को संविलियन की मांग पर सिर्फ आश्वासन ही देती आई है.

‘यहाँ नगर निगम ने कांग्रेसियों के निकाल लिए सैकड़ों बैनर-पोस्टर, मगर भाजपाइयों पर इतना मेहरबान क्यों है…!’

‘यहाँ नगर निगम ने कांग्रेसियों के निकाल लिए सैकड़ों बैनर-पोस्टर, मगर भाजपाइयों पर इतना मेहरबान क्यों है…!’

नगर पालिक निगम अमला ने कांग्रेसियों के सैकड़ों बैनर-पोस्टर निकाल लिए. मगर भाजपाइयों पर यहाँ निगम इतना मेहरबान क्यों है…! ये आरोप है कांग्रेस प्रवक्ता शैलेष पाण्डेय का. पाण्डेय ने आज इस संबंध में आरटीआई लगाया है.

शैलेष पाण्डेय ने अपने आरटीआई प्रपत्र में निगम आयुक्त से पूछा है कि मंत्री अमर अग्रवाल के द्वारा शहर में कई बैनर-पोस्टर लगवाए गए हैं. साथ ही कई जगह वाल पेंटिंग करवाई गई है. रामकथा और पदयात्रा के कई बैनर-पोस्टर शहर में अब तक शान से यथावत हैं. यह किन नियमों के तहत लगाये गए हैं…?

Related News