Employment

Employment Opportunities News

पीएनबी नगरी ब्रांच के बैंककर्मी पर शिक्षकों से बदसलूकी करने का आरोप, शिक्षाकर्मी संघ ने की शिकायत

 शिक्षाकर्मी संघ ने की शिकायत

पंजाब नेशनल ब्रांच की नगरी ब्रांच आजकल ग्राहकों के साथ अपने अभद्र व्यवहार को लेकर सुर्खियों में है. पीएनबी के उपभोक्ताओं का कहना है कि नगरी ब्रांच के कर्मचारी उनके साथ दुर्व्यवहार करते हैं और गलत भाषा का इस्तेमाल करते हैं.

शिक्षाकर्मियों के खिलाफ अभद्र टिप्पणी

एसडीएम ऑफिस में एसीबी की दबिश

राजनांदगांव जिले के डोंगरगढ़ में एसडीएम ऑफिस में एंटी करप्शन ब्यूरो की टीम ने दबिश दी है। गुरुवार सुबह से ही टीम ऑफिस में मौजूद है। एंटी करप्शन ब्यूरो से मिली जानकारी के अनुसार अभी दस्तावेजों की जांच की जा रही है। जांच के बाद ही तथ्य सामने आएंगे।

पदोन्नति रूकने से बीएसपी कर्मियों को हो रहा नुकसान

बीएसपी कर्मचारियों का प्रमोशन रुका हुआ है। जीई सेक्शन में बिटवीन कलस्टर में पदोन्नति नहीं होने से कर्मचारियों को आर्थिक नुकसान हो रहा है। एस-2 से एस-3, एस-5 से एस-6 और एस-8 से एस-9 में लोगों को अपना हक नहीं मिल पा रहा है। भिलाई इस्पात संयंत्र में जनरल इस्टब्लिसमेंट में दिसंबर 2016 से बिटवीन कलस्टर में पदोन्नति नहीं हुआ है। दिसंबर 2016 और जून 2017 की डीपीसी करके कर्मचारियों को प्रमोशन दिया जा सकता है। प्रबंधन की ओर से कोई ठोस निर्णय नहीं लेने के कारण कर्मचारियों को आर्थिक नुकसान उठाना पड़ रहा है।

आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की हड़ताल 3 अक्टूबर से

आंगनबांडी कार्यकर्ता और सहायिकाएं 10 सूत्रीय मांगों को लेकर 3 से 10 अक्टूबर तक हड़ताल पर जाएंगी। वे सभी हड़ताल के अंतिम दिन 10 अक्टूबर को मुख्यमंत्री निवास का घेराव करेंगी। इसके बाद भी यदि उनकी मांग पूरी नहीं होगी तो अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने के लिए मजबूर होंगी। यह जानकारी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सहायिका संघर्ष समिति की सदस्य सरिता पाठक ने दी।

बीएसपी कर्मियों के खाते में जमा हुई बोनस की राशि

बीएसपी कर्मियों के बैंक खाते में बोनस राशि गुरुवार को जमा करा दी गई। इससे कर्मियों ने राहत की सांस ली है। हालांकि बीते तीन साल से लगातार मिल रही कम राशि की वजह से कर्मियों में अब पहले जैसा उल्लास नहीं है। लेकिन कंपनी की हालत को देखते हुए कर्मी उम्मीद कर रहे हैं कि मुनाफे की हालत में आने के बाद बोनस राशि निश्चित तौर पर बढ़ेगी।

सेना की भर्ती रैली 15 से

जिले के युवाओं को भारतीय वायु सेना में भर्ती के लिए अवसर दिया जा रहा है। इसके लिए भर्ती रैली अंबिकापुर में 15 से 21 नवंबर तक होगी । गुरुवार को कलेक्टर ने कहा कि भर्ती रैली में भारतीय वायु सेना के आटोमोबाईल टेक्निशियन, ग्राउन्ड ट्रेनिंग इंस्ट्रक्चर, भारतीय वायु सेना पुलिस और भारतीय वायु सेना सुरक्षा पदों पर सीधी भर्ती की जाएगी। सेना भर्ती रैली में 10वीं और 12वीं की मूल अंकसूची, निवास प्रमाण पत्र, फोटो और मूल दस्तावेजों की दो-दो छायाप्रति देनी होगी। टोकन लेने के बाद युवाओं का शारीरिक मापदंड और लिखित परीक्षा होगी। कलेक्टर दुग्गा ने वायु सेना भर्ती रैली में जिले के अधिक से अधिक युवाओं को शामिल हो

अब ठेका मजदूरों ने भी शुरू की बोनस देने की मांग

बीएसपी के नियमित कर्मचारियों को 11 हजार रुपए बोनस के रूप में मिलेगा। बोनस देने की घोषणा के बाद ठेका मजदूरों ने भी बोनस के लिए मांग शुरू कर दी हैं। बीएसपी में काम करने वाले करीब 25 हजार से ज्यादा ठेका मजदूरों को भी त्यौहार से पहले बोनस देने की मांग प्रबंधन से की है। गुरुवार को ठेका यूनियन सचिव योगेश सोनी ने कहा कि जब श्रमिकों से नियमित कर्मचारियों की तरह ही काम लिया जा रहा है तो उन्हें बोनस भी नियमित कर्मियों के बराबर मिलना चाहिए। नियमित कर्मियों की बोनस देने की घोषणा हो चुकी है। वहीं ठेका श्रमिकों को कितना बोनस मिलेगा, ऐसा कोई परिपत्र अब तक ठेका श्रमिकों के लिए जारी नहीं हुआ है। अध्यक्ष यूके

पूर्व दैनिकभोगी कर्मचारियों ने शुरू किया आमरण अनशन, अर्धनग्न होकर विरोध-प्रदर्शन

 अर्धनग्न होकर विरोध-प्रदर्शन

पूर्व वेतनभोगी कर्मचारियों ने विभिन्न मांगों को लेकर मंगलवार से आमरण अनशन शुरू किया. सभी कर्मचारी फिर से नियुक्ति की मांग पर अड़े हुए हैं और अर्धनग्न होकर प्रदर्शन कर रहे हैं.

छिन्दगढ़ की गीता बृज बनी सिविल जज

छिन्दगढ़ की गीता बृज बनी सिविल जज

सुकमा जिला के ग्राम बारसेरास छिन्दगढ़ निवासी गीता बृज का सिविल जज के लिए चयन हुआ है। पीएससी के सिविल जज भर्ती परीक्षा के मेरिट में छत्तीसवें स्थान पर उनका चयन हुआ है। गीता बृज का सिविल जज बनना बस्तर संभाग के युवाओं के लिए यह गौरव का क्षण है।

मजदूर इस बार नहीं लेंगे एडवांस राशि : श्रमिक संघ

भिलाई श्रमिक सभा (एचएमएस) की गेट मीटिंग में कहा गया कि बीएसपी कर्मियों की 18 हजार 200 रुपए बोनस की मांग जायज है। इस बार एडवांस राशि की किसी भी हाल में स्वीकार नहीं करेंगे। क्योंकि ईएल नगदीकरण, फेस्टिवल नगदीकरण बंद करने से पहले ही श्रमिकों को आर्थिक नुकसान हो चुका है।

Related News