Development

Development News

इंद्रावती पर नई नहर बनाना चाहता है ओडिशा

indrawati.jpg

महानदी जल को लेकर ओडिशा से जारी विवाद के बीच छत्तीसगढ़ ने उनकी एक और सिंचाई परियोजना पर आपत्ति जताई है। राज्य के जल संसाधन विभाग ने बस्तर की प्रमुख नदी इंद्रावती पर पड़ोसी राज्य के नवरंगपुर जिले में बनी अपर इंद्रावती परियोजना खातीगुड़ा से नवरंगपुर सिंचाई परियोजना के निर्माण का विरोध किया है। विभाग का कहना है कि परियोजना में नई नहर का निर्माण कर 15 हजार हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई के लिए करीब पांच टीएमसी पानी का उपयोग ओडिशा करेगा। इससे नदी में जलसंकट गहराने की आशंका है। ओडिशा से 1975 में हुए समझौते के बाद इस प्रोजेक्ट से प्रदेश को जल की तय मात्रा मिलना मुश्किल हो सकता है। नवरंगपुर सिंचाई परियोज

जेएसपीएल में बना हेड हार्डन्ड रेल संयंत्र ईरान को होगा निर्यात

Hardan Rail

आजादी की 70वीं सालगिरह पर जिंदल स्टील एंड पाॅवर लिमिटेड ने देश को एक बड़ा तोहफा दिया है। कंपनी के रायग-सजय़ संयंत्र ने हेड हार्डन्ड रेल की रोलिंग शुरू कर इसे राष्ट्र के नाम समर्पित किया है। मेट्रो और हाई स्पीड ट्रेनों के लिए काम आने वाली हेड हार्डन्ड रेल की यह पहली खेप ईरान को निर्यात की जा रही है। अब तक भारत में इस तरह की रेल का सिर्फ आयात होता था। हेड हार्डन्ड रेल तैयार करने वाली पहली भारतीय कंपनी होने का गौरव हासिल करने के साथ ही जेएसपीएल दुनिया की उन 7 कंपनियों में शामिल हो गई है, जिनके पास यह क्षमता है। यह मेक इन इंडिया मिशन की ओर देश का एक बड़ा कदम है।

उन्नत सब्जी उत्पादकों की खेती पद्धति से रू-ब-रू हुए कलेक्टर

Agriclture Dipartment

गुरूवार को धमतरी विकासखण्ड के ग्राम पोटियाडीह, लोहरसी और नगर पंचायत आमदी के प्रगतिशील और उन्नत सब्जी उत्पादकों के फार्म हाउस में जाकर विभिन्न सब्जियों के उत्पादन की तकनीक और खेती की पद्धति के बारे में जानकारी कलेक्टर ने ली। इसके अलावा उनके की ओर से सब्जियों के विक्रय, उठाव और मांग और पूर्ति के बारे में भी किसानों से चर्चा की।

राजधानी के भाटागांव में फ्लाई ओव्हर और राजेन्द्र नगर में अण्डर पास का हो रहा निर्माण

राजधानी रायपुर के व्यस्ततम मार्ग रिंग रोड क्रमांक-1 में बेहतर यातायात के लिए फ्लाईओव्हर और अण्डरपास का निर्माण किया जा रहा है। इनमें रायपुर-भिलाई बायपास मार्ग-रिंगरोड स्थित भाटागांव में फ्लाई ओव्हर और राजेन्द्र नगर में अण्डरपास का निर्माण तीव्र गति से जारी है। इनका निर्माण लोक निर्माण विभाग द्वारा स्वीकृत 37 करोड़ 49 लाख 90 हजार रूपए की राशि से किया जा रहा है। इन दोनों निर्माण कार्यों को चालू वर्ष 2017 के अंत तक पूर्ण कर लिया जाएगा।

राजधानी रायपुर में सखी वन स्टाप सेंटरों के सेवा प्रदाताओं के लिए दो दिवसीय प्रशिक्षण शुरू

Mahila Avam Bal Vikash Adhikari

राज्य के 27 जिलों में संचालित सखी वन स्टाप सेंटरों के सेवा प्रदाताओं के लिए दो दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का आज यहां शुभारंभ हुआ। महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा यह प्रशिक्षण कार्यक्रम इंदिरा गंाधी कृषि विश्वविद्यालय के सभाकक्ष में आयोजित किया गया है। इसमें सखी वन स्टाप सेंटरों को सेवाएं देने वाले परामर्श दाताओं, केन्द्र प्रशासकों तथा अन्य संबंधित कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

100 मजदूरों का 44 हजार भुगतान लंबित

विकासखंड दुर्गूकोंदल अंतर्गत ग्राम सिहारी से कोदापाखा और बोकराटोला मार्ग पर सड़क निर्माण गिट्टीकरण, पुलिया निर्माण और डामरीकरण कार्य में लगे मजदूरों को मजदूरी भुगतान नहीं किया जा रहा है। ग्रामीण मजदूर गोविंदराम कोमरा, गिरधारीलाल, अनुज, मेहरसिंह ने बताया सिहारी से कोदापाखा मार्ग पर मजदूरों द्वारा सड़क, पुलिया निर्माण कार्य ठेकेदार 150 रुपए की दर से करवाया गया। लगभग 100 मजदूरों का 44 हजार रुपए का मजदूरी भुगतान लंबित है। मजदूरी नहीं मिलने से ग्रामीण परेशान हैं। ग्रामीणों ने शीघ्र मजदूरी भुगतान दिलाने की मांग की है।

मुख्यमंत्री के हाथों उत्कृष्ट कार्य करने वाले 6 जनपद पंचायत हुए सम्मानित

Jaspurnagar

स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर रायपुर में जशपुर जिले के स्वच्छता के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने और खुले में शौचमुक्त बनाने के लिए दृढ़ संकल्पित जनपद पंचायतों को मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने सम्मानित किया। जशपुर, मनोरा, बगीचा, कुनकुरी, फरसाबहार और पत्थलगांव जनपद पंचायत के सीईओ और जनपद पंचायत अध्यक्ष को प्रशस्ति पत्र दिया गया।

छत्तीसगढ़ में बन रहा है कछुओं के लिए देश का पहला पार्क

Tortoise_47x313

अकलतरा क्षेत्र के कोटमीसोनार गांव में स्थित प्रदेश के पहले क्रोकोडायल पार्क के बाद अब कछुओं के लिए पार्क का निर्माण किया जा रहा है. वन विभाग के द्वारा अब टर्टल पार्क यानी कछुआ पार्क बनाया जा रहा है. इसे क्रोकोडायल पार्क के बाहरी क्षेत्र में बनाया जा रहा है. यह देश का पहला टर्टल पार्क होगा.
कोटमीसोनार के क्रोकोडायल पार्क में छग के अलावा दूसरे राज्यों से भी पर्यटक आते हैं. यहां मगरमच्छों को बहुत पास से देखना काफी रोमांचक भरा पल होता है. टर्टल पार्क बन जाने से यहां बड़ी संख्या में पर्यटन बढ़ने की संभावना जताई जा रही है.

Related News