Agriculture

Agriculture

उन्नत सब्जी उत्पादकों की खेती पद्धति से रू-ब-रू हुए कलेक्टर

Agriclture Dipartment

गुरूवार को धमतरी विकासखण्ड के ग्राम पोटियाडीह, लोहरसी और नगर पंचायत आमदी के प्रगतिशील और उन्नत सब्जी उत्पादकों के फार्म हाउस में जाकर विभिन्न सब्जियों के उत्पादन की तकनीक और खेती की पद्धति के बारे में जानकारी कलेक्टर ने ली। इसके अलावा उनके की ओर से सब्जियों के विक्रय, उठाव और मांग और पूर्ति के बारे में भी किसानों से चर्चा की।

कोरबा में छिंदई नाला पुल से बारह गांव के लोगों को मिल रहा फायदा

कोरबा जिले के आदिवासी बहुल रामपुर क्षेत्र के अंतर्गत चोरभट्टी-मदवानी मार्ग में छिंदई नाला पर पुल का निर्माण होने से लोगों को आवागमन में काफी सुविधा मिलने लगी है। इस पुल के निर्माण हो जाने से क्षेत्र के लगभग 12 ग्राम के साढ़े 12 हजार आबादी प्रत्यक्ष रूप से लाभान्वित होने लगी है। लोक निर्माण विभाग द्वारा इसका निर्माण विगत जून माह में दो करोड़ 71 लाख रूपए की लागत से पूर्ण किया गया है। पूल निर्माण के पहले बरसात के महीनों में रामपुर क्षेत्र का सम्पर्क जिला मुख्यालय और विकासखण्ड मुख्यालय टूट जाता था। इससे अब क्षेत्र के लोगों को बारहमासी आवागमन की सुविधा मिल गई है।

अभिषेक पोलैंड में दिखाएगा साइकिल पर हैरतअंगेज

abhishek-polend stant.jpg

साइकिल पर हैरतअंगेज करतब दिखाने वाला भिलाई का होनहार युवक अभिषेक कुमार सिंह अब पोलैंड में स्टंट दिखाएगा। 27 से 29 अगस्त तक पोलैंड में आयोजित साइकिल स्टंट वर्ल्ड चैंपियनशिप में उसे आमंत्रण मिला है। इस प्रतियोगिता में भाग लेने वाला अभिषेक छत्तीसगढ़ से एकमात्र युवक है।

शौचालय उपयोग के लिए प्रेरित करना सामाजिक दायित्व: कलेक्टर

jagdalpur 17 1 edit.jpg

लोगों को खुले में शौच की आदत से छुटकारा दिलाकर शौचालय उपयोग के लिए प्रेरित करना सभी का सामाजिक दायित्व। गुरुवार को ये बातें कलेक्टर धनंजय देवांगन ने कार्यालय में समीक्षा बैठक के दौरान कही। उन्होंने कहा कि खुले में शौच की प्रवृत्ति सदियों पुरानी है। लोगों को इस आदत से छुटकारा दिलाना आवश्यक है।

कम बारिश वाले क्षेत्रों में कार्ययोजना तैयार करें : कलेक्टर

16 F-f.jpg

गुरुवार को जैजैपुर क्षेत्र के विभिन्न गावों का निरीक्षण कलेक्टर और जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी अजीत वसंत ने किया। उन्होंने टेल एरिया वाले ग्राम भनेतरा, बरेकेलखुर्द, झालखरौंदा, लालमाटी सहित कई गावों का निरीक्षण किया। कलेक्टर डॉ. एस भारतीदासन ने सिचाई विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे नहरों में पानी का अधिकतम बहाव छोड़ें। नहरों की नियमित मानिटरिंग करें। नहरों के पार काटने और बहाव को बाधित करने वालों के खिलाफ थानों में एफआईआर दर्ज करवाएं। एक सप्ताह के भीतर बारिश सामान्य नहीं होने की स्थित में फसल क्षति का आंकलन कर कार्ययोजना बनाने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए हैं।

छत्तीसगढ़ में बन रहा है कछुओं के लिए देश का पहला पार्क

Tortoise_47x313

अकलतरा क्षेत्र के कोटमीसोनार गांव में स्थित प्रदेश के पहले क्रोकोडायल पार्क के बाद अब कछुओं के लिए पार्क का निर्माण किया जा रहा है. वन विभाग के द्वारा अब टर्टल पार्क यानी कछुआ पार्क बनाया जा रहा है. इसे क्रोकोडायल पार्क के बाहरी क्षेत्र में बनाया जा रहा है. यह देश का पहला टर्टल पार्क होगा.
कोटमीसोनार के क्रोकोडायल पार्क में छग के अलावा दूसरे राज्यों से भी पर्यटक आते हैं. यहां मगरमच्छों को बहुत पास से देखना काफी रोमांचक भरा पल होता है. टर्टल पार्क बन जाने से यहां बड़ी संख्या में पर्यटन बढ़ने की संभावना जताई जा रही है.

5 हजार का था लक्ष्य, सात हजार से अधिक खुल गए सुकन्या खाते

14.08.2017

नानो करसाड़ अर्थात बेटियों के मेले में साढ़े 5 हजार से अधिक सुकन्याओं के खाते खुल गए। शाम चार बजे तक प्राप्त जानकारी के अनुसार सात हजार सुकन्या समृद्धि योजना के खाते खोले जा चुके थे। प्रत्येक खाते में जिला प्रशासन ने एक हजार रुपए की प्रोत्साहन राशि प्रदान की। नानो करसाड़ मेले में अपनी बेटियों के उज्ज्वल भविष्य के लिए सुबह से ही अनेक अभिभावक पहुंचने लगे थे। इन अभिभावकों के नाश्ते-खाने का प्रबंध भी जिला प्रशासन ने किया था। इस अवसर पर मुख्य अतिथि विधायक देवती कर्मा ने पाँच बच्चों का सुकन्या योजना का खाता खोला।

किसानों के लिए घाटे का सौदा साबित हो रही खेती

Agriclture Dipartment

महंगाई की मार खेती पर भी पड़ी है। डीजल, खाद, बीज, बिजली आदि महंगी होने से अब खेती फायदे का व्यवसाय नही रही , मगर जिनके पास काम का कोई विकल्प नहीं है, उनके लिए खेती मजबूरी बन गई है। महंगाई से जूझने के बाद किसान किसी तरह खेती करता है तो उसे समय बेसमय मौसम की मार का भी सामना करना पड़ता है। वहीं उनकी उपज का उचित दाम भी नहीं मिल पा रहा है, इसके कारण किसानों की हालत खराब है। आधुनिकीकरण का असर खेती पर भी पड़ा है जिसके कारण अब खेती यंत्रों के सहारे होती है। जोताई, ढुलाई, मिंजाई से लेकर धान की सफाई तक का काम ट्रैक्टर, थ्रेसर, रीपर व अन्य यंत्रों से किया जाता है। ये मशीन बड़े किसानों के पास ही उपलब्ध है

रमन-श्रमिकों ने साथ खाया गर्म खाना

food

बतौर सीएम पांच हजार दिन पूरे करने वाले मुख्यमंत्री डाॅ.रमन सिंह ने आज जब इतिहास रचा, तो उन मजदूरों के बीच बैठकर जश्न मनाया, जिनके समर्थन के बूते ये मुकाम हासिल हुआ है. इस बीच उन्होंने प्रदेश के श्रमवीरों की चिंता करते हुए पंडित दीनदयाल उपाध्याय श्रम अन्न सहायता योजना का शुभारंभ भी किया. योजना शुरू की तो खुद मजदूरों के साथ दोपहर का खाना खाया. गर्म दाल-चावल, सब्जी और आचार.

कलेक्टर ने खेतों में काम कर रहे मजदूरों से की बात

thumb_Durg

अल्प वर्षा से प्रभावित गांवों का दौरा कर फसलों के वस्तुस्थिति की जानकारी कलेक्टर उमेश कुमार ने लिया। उन्होंने ग्राम दारगांव के खेत में काम कर रहे किसानों और मजदूरों से चर्चा कर फसल को बचाने के लिए वैकल्पित उपाय बनाने के संबंध में जानकारी ली । इस दौरान विद्युत अवरोध की जानकारी मिलने पर उन्होंने विद्युत मण्डल के सहायक अभियंता को विद्युत आपूर्ति करने के संबंध में आवश्यक दिशा- निर्देश दिये। ग्राम देवरी पहुंचकर यहां संचालित सहकारी समिति का निरीक्षण कर खाद-बीज की उपलब्धता और फसल बीमा योजना की जानकारी ली। दारगांव में दिव्यांगजनों के कल्याण के लिए चलाए जा रहे पहचान शिविर में पहुंचकर उन्होंने दिव्यांगज

Related News