बाइक चलाते हुए फेसबुक पर दोस्तों को LIVE नजारा दिखाने की सनक में हुई इन दो युवकों की दर्दनाक मौत…

बाइक चलाते हुए फेसबुक पर दोस्तों को LIVE नजारा दिखाने की सनक में हुई इन दो युवकों की दर्दनाक मौत…

दो दोस्तों को बाइक चलाते हुए फेसबुक पर लाइव करना महंगा पड़ गया. फेसबुक के जरिए नेशनल हाईवे पर तेज रफ्तार में बाइक चलाने के दौरान लाइव वीडियो दिखाना मुरली और मनीष की जिंदगी का आखरी वीडियो बन गया. सड़क पर करतब दिखाते हुए दोनों युवक बाइक से जगदलपुर के लिए निकले थे. इस दौरान इन्होंने सोचा कि क्यों न एक फेसबुक वीडियो लाइव किया जाए. फेसबुक पर लाइव में ही दोस्तों से बातचीत किया जाए. फिर क्या था. बाइक पर पीछे बैठे मुरली नाम के युवक ने अपना मोबाइल निकाला और चलते बाइक पर फेसबुक लाइव करना स्टार्ट कर दिया.

मुरली द्वारा लाइव चालू करते ही एक के बाद एक कमेंट आना शुरु हो गया. कई प्रकार के कमेंट आ रहे थे. इसी बीच एक दोस्त पुलिसकर्मी जेडी सिंह ने इन्हें आगाह करते हुए युवक कहा “अबे बाइक में तो ऐसे मत कर… ”. पर ये दोनों नहीं माने और लाइव को कंटिन्यू चालू रखा. इस दौरान कई दोस्तों ने इनकी तारीफ की तो कई ने बाइक चलाते समय ऐसा करने से रोकने की भी कोशिश की, पर ये दोस्त नहीं जानते थे कि ये उनकी आखिरी मुलाकात है. मुरली और मनीष बेफिक्र होकर आगे की ओर निकलते चले गए. उसी वक्त इनके लाइव के समय एक ऐसा मोड़ आया. जिसे ये समझ पाते इससे पहले ही सामने से आ रही बस से जा टकराए और मनीष की मौके पर ही मौत हो गई. मुरली गंभीर रुप से घायल हो गया. जिसे कांकेर के जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया. जहां उसने अपनी आखिरी सांस लेते हुए दम तोड़ दिया.

ये घटना कांकेर जिले के चारामा के बाबुकोहका के पास नेशनल हाइवे पर हुआ है. दोनों मृतकों में एक का नाम मुरली निषाद जो कि जगदपुर का रहने वाला था और दूसरा मनीष कुमार राजिम का रहने वाला था. वहीं तेज रफ्तार बस भी इन्हें बचाने के चक्कर में ठोकर मारते हुए सीधे झाड़ियों में जा घुसी. जिससे बस में सवार 15 यात्री घायल हो गए. जिन्हें जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया. जहां इनका इलाज चल रहा है. बस में सवार यात्री और कंडक्टर के अनुसार बाइक चालक अचानक सामने आ गया. उनके द्वारा बाइक को लापरवाही से चलाया जा रहा था जिस वजह से यह दुर्घटना हुई है.

इन दोनों दोस्तों ने अपनी जान तो गंवाई, लेकिन यात्री बस में सवार लोगों की जान भी खतरे में डाल दी. हादसे में बस में सवार कंडेक्टर सहित 15 लोग घायल हो गए. इनमें से 5 यात्रियों को कांकेर अस्पताल रेफर किया गया. वहीं 8 यात्रियों को चारामा अस्पताल में भर्ती कराया गया है. घायलों में शकिला नुरानी, राजकुमार पंजवानी, कुशाल कौशिक, नरेन्द्र चतुर्वेदी, महेन्द्र टाडिया, सन्तराम शर्मा, कौशिल्या ठाकुर, मो अमीन शामिल हैं.

Source: 
lalluram.com

Related News