बस्तर में स्वरोजगार के लिए युवाओं को दिया जा रहा ऋण

bastar 23 1 edit (1).jpg

बस्तर जिले में जिला व्यापार और उद्योग केन्द्र ने बेरोजगार युवक-युवतियों को स्वरोजगार स्थापित करने के लिए प्रधानमंत्री मुद्रा योजना अंतर्गत ऋण उपलब्ध कराया जा रहा है। प्रधानमंत्री मुद्रा योजना अंतर्गत जिले के उत्साही युवकों को स्वयं का स्वरोजगार स्थापित करने ऋण उपलब्ध कर उनके सपनों को साकार करने की दिशा में सकारात्मक पहल है।
जिले के जगदलपुर हाटकचोरा निवासी राजन पाण्डेय ने स्वरोजगार स्थापना करने के लिए बैंक ऑफ इंडिया जगदलपुर से ऋण लेकर अपने व्यवसाय को नया आयाम दिया है। राजन पाण्डेय जो कि बचपन से ही मेधावी छात्र रहे हैं और उन्होंने वर्ष 2013 में मेकेनिकल इंजीनियर में डिग्री भी हासिल किया है।
राजन ने योजना की जानकारी लेने के लिए बैंक ऑफ इण्डिया जगदलपुर के शाखा प्रबंधक से सम्पर्क किया और योजना के संबंध विस्तारपूर्वक जानकारी प्राप्ति के बाद बस्तर जिले के दूरस्थ क्षेत्रों में विद्युत अनुपलब्धता की समस्या को देखते हुए सौर ऊर्जा व्यवसाय को छोटे रूप में प्रारंभ करना उचित समझा। बैंक ऑफ इंडिया जगदलपुर की ओर से सौर ऊर्जा उपकरण व्यवसाय प्रारंभ करने के लिए प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (किशोर) अंतर्गत 01 लाख 90 हजार रुपए का ऋण स्वीकृति किया गया।
उन्होंने बैंक ऋण से अक्षय ऊर्जा के नाम से कुम्हारपारा जगदलपुर में सौर ऊर्जा उपकरणों की दुकान दिसम्बर 2016 में प्रांरंभ किया। उनका व्यवसाय अच्छी तरह चल रहा है और माह में लगभग 60-70 हजार का टर्न ओवर हो रहा है, जिससे उन्हें पर्याप्त आय हो रही है। वर्तमान में पाण्डेय बैंक किश्त नियमित जमा कर रहे हैं। पाण्डेय इस कथन में विश्वास करते है ``युवा जाब सीकर के स्थान पर स्वरोजगार अपना कर जाब प्रोड्युसर बनेÓÓ। पाण्डेय भविष्य में सौर उपकरणों का एसेम्बलिंग यूनिट की स्थापना करना चाहते हैं।

Source: 
visionnewsservice.in

Related News