Rajnandgaon

CG-08, Rajnandgaon

गायत्री मंदिर में सामूहिक श्राद्ध तर्पण 20 को

शांतिकुंज हरिद्वार के मार्गदर्शन में राजनांदगांव गायत्री शक्तिपीठ में 20 सितंबर को सामूहिक तर्पण कार्यक्रम प्रात: 8.30 बजे से होगा। किसी कारणवश श्राद्ध तर्पण छूट गया है। वे गायत्री शक्तिपीठ में 8.30 बजे आकर सामूहिक तर्पण में भाग ले सकते हैं।

गौरीशंकर को गायत्री परिवार ने दी श्रद्धांजलि

गायत्री परिवार के वरिष्ठ परिव्राजक और शांतिकुंज हरिद्वार के व्यवस्थापक गौरीशंकर (75) का निधन 16 सितंबर को शांतिकुंज में हो गया। गौरीशंकर 20 वर्षों से शांतिकुंज की व्यवस्था संभाल रहे थे। वे कर्मठ कार्यकर्ता और गुरुदेव के सानिध्य में रहकर मिशन के कार्य में जुटे रहे। शक्तिपीठ में शोकसभा रखी गई जिसमें बुधराम साकुरे, कश्यप, सत्यनारायण अग्रवाल, मुरली चौधरी, मुरलीधर साहू, जयंती बाई पटेल, नंदकिशोर सुरजन, हरीश गांधी, जुगल लड्ढा, इंदु दीदी ने गौरीशंकर को श्रद्धांंजलि दी।

व्याख्याता पद की वरिष्ठता सूची का प्रकाशन

नगर निगम की ओर से नगरीय निकाय अंतर्गत व्याख्यता पद के शिक्षाकर्मियों की वरिष्ठता सूची का प्रथम प्रकाशन जारी किया गया है। निगम आयुक्त अश्वनी देवांगन ने मंगलवार को कहा कि नगर निगम सीमांतर्गत नगरीय निकाय के व्यख्याता पद के शिक्षाकर्मियों की वरिष्ठता सूची का प्रथम प्रकाशन प्रपत्र अनुसार 1 जुलाई 17 की स्थिति में जारी किया गया है। सूची के संबंध में दावा आपत्ति 15 दिवस के भीतर प्रस्तुत की जा सकती है।

नंदिनी को पेंटिंग स्पर्धा में मिला स्वर्ण पदक

दीप चन्द चित्रकला प्रशिक्षण केन्द्र की छात्रा नन्दिनी आशीष चितलांग्या ने अखिल भारतीय पेंटिंग प्रतियोगिता (कक्षा11वीं वर्ग में) स्वर्ण पदक प्राप्त कर संस्था का नाम रौशन किया है। नन्दिनी ने इस उपलब्धि का सम्पूर्ण श्रेय अपने प्रशिक्षकों दीपचंद, आशीष व शीतल को दिया है, जिनके मार्गदर्शन में उसने यह सफलता प्राप्त की।

सर्व पिछड़ा समाज ने निकाली आक्रोश रैली

राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग गठन संबंधित विधेयक को राज्यसभा में कांग्रेस की ओर से विरोध किए जाने से नाराज सर्व पिछड़ा समाज के लोगों ने सोमवार को आक्रोश रैली निकाली। रैली में समाज कल्याण विभाग की अध्यक्ष शोभा सोनी, पिछड़ा वर्ग मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष कोमल जंघेल, जिलाध्यक्ष दीनदयाल साहू और शहर अध्यक्ष दीपक सोनकर सहित बड़ी संख्या में पिछड़ा वर्ग मोर्चा के लोग उपस्थित थे।

फ्रैंक ब्रदर्स, शंकरा भिलाई, यंग ब्रदर्स और बीआईटी विजयी

7 ए साइड चैलेंज कॅप फुटबाल स्पर्धा के तहत म्युनिस्पिल स्कूल मैदान में सोमवार को चार मैच खेले गए जिनमें फ्रैंक ब्रदर्स, शंकरा कॉलेज भिलाई, यंत्र ब्रदर्स और बीआईटी दुर्ग विजयी रहा।

2022 तक किसानों की आमदनी दोगुनी करने का लक्ष्य: अभिषेक

केंद्र सरकार 2022 तक किसानों की आमदनी दोगुनी करने का लक्ष्य लेकर काम कर रही है। सोमवार को ये बातें सुकुलदैहान में आयोजित कार्यक्रम में सांसद अभिषेक सिंह ने कही। मां बम्लेश्वरी सेल्फ रिलायंट फार्मस प्रोड्यूसर कंपनी किसानों के उत्थान के लिए लगी हुई है और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की योजना भी वर्ष 2022 तक किसानों की आमदनी दोगुनी करने की है। सांसद अभिषेक सिंह ने कहा कि किसानों की कंपनी और हम मिलकर काम करेंगे तो शीघ्र ही लक्ष्य को प्राप्त कर लेंगे।

अग्रसेन जयंती पर हुई विविध स्पर्धाएं

अग्रवाल समाज की ओर से अग्रसेन जयंती महोत्सव के तहत विविध स्पर्धाओं का आयोजन किया गया है। मंगलवार को अग्रवाल समाज के मीडिया प्रभारी ओम बाबाजी ने कहा कि महोत्सव के तहत 17 सितम्बर रविवार को आयोजित स्पर्धाओं के परिणाम इस प्रकार रहे-बुद्धि विकास में श्रुति अग्रवाल प्रथम व मिताली अग्रवाल द्वितीय रही। सुडोकू में रिया लोहिया प्रथम व ज्योति विकास अग्रवाल द्वितीय, बैडमिंटन जूनियर में रूदा्रक्ष शिव अग्रवाल प्रथम व रोहित शिवराज द्वितीय, सीनियर वर्ग में आयुश आलोक रूगंटा प्रथम व पंकज प्रभात लोहिया द्वितीय, फैंसी ड्रेस में अवि शिवराज प्रथम व हितेश दीपक खोखरिया द्वितीय रहे।

पत्थर खदान को बंद कराने ग्रामीणों ने लगाई गुहार

ग्राम भानुपरी के सैकड़ों ग्रामीणों ने सोमवार को जिला कार्यालय पहुंचकर कलेक्टर भीम सिंह को ज्ञापन सौंपा और पत्थर खदान को बंद कराने की मांग की। साथ ही उन्होंने अक्टूबर माह के अंतिम सप्ताह में विस्फोट की वजह 50 मकानों को पहुंचे नुकसान के बाद खनिज विभाग की ओर से सील की गई खदान से अवैध खनन बदस्तूर जारी रहने पर नाराजगी जाहिर की और उच्च स्तरीय जांच की मांग की।
00 क्या है पूरा मामला :

सोनारिन बाई साहू का निधन

डोंगरगढ़ क्षेत्र के ग्राम ठेकवा की सोनारिन बाई साहू (98) का गत 16 सितंबर को निधन हो गया। वे गांव की सबसे बुजुर्ग महिला थीं। सोनारिन बाई मां बम्लेश्वरी सेल्फ रिलायंट फामर्स प्रोड्यूसर कम्पनी की चेयरमेन थीं। वे अपने पीछे पांच पुत्रों व एक पुत्री सहित भरा-पूरा परिवार छोड़ गई हैं।