विधानसभा निर्वाचन

निर्वाचन की अधिसूचना के साथ नामांकन दाखिला शुरू

कलेक्टर एवं रिटर्निंग आफिसर विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र 88 दंतेवाड़ा (अजजा) सौरभ कुमार की ओर से निर्वाचन की अधिसूचना करने के साथ ही 16 अक्टूबर 2018 को प्रात: 11 बजे से नामांकन दाखिला आंरभ हो गया है। अभ्यार्थियों अथवा उनके प्रस्तावकों द्वारा नाम निर्देशन पत्र रिटर्निंग आफिसर को या सहायक रिटर्निंग आफिसर को 16 अक्टूबर से 23 अक्टूबर तक सार्वजानिक अवकाश के दिनों को छोड़कर प्रात:11 बजे से अपरान्ह 3 बजे तक नवीन कलेक्टोरेट के कक्ष क्रमंाक 103 कलेक्टर न्यायालय में प्रस्तुत कर सकते हैं। नाम निर्देशन पत्र का प्रारूप उक्त निर्धारित समय पर उपरोक्त स्थान से प्राप्त किया जा सकता है। नाम निर्देशन पत्रों की संवी

अधिसूचना जारी, पहले दिन किसी भी प्रत्याशी ने दाखिल नहीं किया नामांकन

छत्तीसगढ़ में विधानसभा निर्वाचन के पहले चरण के लिए आज अधिसूचना जारी कर दी गई। इसके साथ ही नामांकन प्रक्रिया की शुरूआत हो गई। पहले दिन 18 विधानसभा सीटों के लिए किसी भी प्रत्याशी ने अपना नामांकन पत्र दाखिल नहीं किया। प्रथम चरण में बस्तर संभाग की 12 सीटों के लिए तथा राजनांदगाँव जिले की 6 सीटों के लिए नामांकन पत्र दाखिल किया जाना है।

मतदान केन्द्रों के सील तैयार करने के लिए निविदा 22 तक

विधानसभा निर्वाचन अंतर्गत मतदान केन्द्रों में उपयोग के लिए मॉकपोल सील तैयार कर उपलब्ध कराने के लिए 22 अक्टूबर दोपहर 1.30 बजे तक निविदा आमंत्रित किया गया है। प्राप्त निविदा 22 अक्टूबर को शाम 5 बजे उपस्थित निविदाकारों और उनके अधिकृत प्रतिनिधियों के समक्ष खोली जाएगी। सील का नमूना जिला निर्वाचन कार्यालय में कार्यालयीन दिवस और समय पर अवलोकन कर सकते है।

विधानसभा निर्वाचन की अधिसूचना मंगलवार 16 को

विधानसभा निर्वाचन 2018 के तहत बस्तर जिले के विधानसभा क्षेत्रों के लिए निर्वाचन की अधिसूचना मंगलवार 16 अक्टूबर को जारी की जाएगी तथा इसी के साथ अभ्यर्थियों के नाम निर्देशन की प्रक्रिया प्रारंभ हो जाएगी। 23 अक्टूबर 2018 तक नाम निर्देशन पत्र प्राप्त किए जा सकेंगे तथा 24 अक्टूबर को नाम निर्देशन पत्रों की संवीक्षा की जाएगी तथा 26 अक्टूबर तक नाम वापस लिए जा सकेंगे। नाम निर्देशन पत्र प्राप्त करने का समय प्रतिदिन प्रात 11 बजे से अपरांह 3 बजे तक रहेगा।
12 नवंबर को होगा मतदान
विधानसभा निर्वाचन 2018 के तहत बस्तर जिले के विधानसभा क्षेत्रों के लिए 12 नवंबर 2018 को मतदान होगा।
यहां होंगे नामांकन

11 मतदान केन्द्रों में सुरक्षा की जिम्मेदारी महिलाओं के कंधे पर

विधानसभा निर्वाचन 2018 में महिला सशक्तिकरण का एक नया उदाहरण प्रस्तुत किया जायेगा। जिसके तहत जिले में 11 पिंक पोलिंग बूथ बनाये जायेंगे। जिला निर्वाचन अधिकारी पी.दयानन्द ने बताया कि इन पोलिंग बूथ की खासियत ये होगी कि यहां पर सभी मतदान कर्मी महिलाएं ही होंगी। इसके अलावा सुरक्षा की जिम्मेदारी भी महिलाओं की जिम्मे ही होगी। महिला मतदानकर्मियों को मतदान केन्द्र में ड्यूटी के लिये दो राउण्ड की ट्रेनिंग भी दी जायेगी। रेंडमाईजेशन साफ्टवेयर के माध्यम से पिंक बूथ के लिये महिलाकर्मियों की ड्यूटी लगाई जायेगी। कोटा, बिल्हा, तखतपुर, मरवाही विधानसभा में 2-2 मतदान केन्द्र एवं बिलासपुर, बेलतरा और मस्तूरी विधानसभ

मतदान दलों के पीठासीन अधिकारियों को मिला प्रशिक्षण

मतदान दलों के पीठासीन अधिकारियों को मिला प्रशिक्षण

विधानसभा निर्वाचन 2018 के तहत मतदान दलों को मतदान सम्बन्धी प्रक्रिया सम्पादन के लिये प्रशिक्षण प्रदान किया जा रहा है। इसी सिलसिले में सोमवार को शासकीय बालक उच्चतर माध्यमिक विद्यालय दंतेवाड़ा में मतदान दलों के पीठासीन अधिकारियों को गहन प्रशिक्षण प्रदान किया गया। इस दौरान मास्टर्स ट्रेनर्स द्वारा ईवीएम मशीन के उपयोग तथा सीलिंग प्रक्रिया सहित विभिन्न प्रपत्रों के बारे में विस्तारपूर्वक अवगत कराया गया। वंही ईवीएम से माकपोल एवं मतदान समाप्ति के पश्चात सीलिंग इत्यादि कार्यों के बारे में पॉवर पॉइन्ट प्रस्तुति के जरिये जानकारी दी गई। इस दौरान कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी सौरभ कुमार ने पीठासीन अधिक

विधानसभा निर्वाचन संबंधी प्रशिक्षण की तिथि जारी

विधानसभा सामान्य निर्वाचन 2018 के लिए जिले में आयोजित होने वाले प्रशिक्षण की तिथि निर्धारित की गई है। यह प्रशिक्षण विधानसभा एवं तहसील स्तर के मास्टर ट्रेनर्स की ओर से संपादित किया जायेगा। इसके अंतर्गत मतदान दल का द्वितीय प्रशिक्षण 29 एवं 30 अक्टूबर को अनुविभाग स्तर पर प्रथम पाली 11 बजे से तथा द्वितीय पाली दोपहर 3 बजे प्रशिक्षण दिया जायेगा। इसी तरह मतदान दल का तृतीय प्रशिक्षण 11 नवम्बर को प्रात: 10 बजे से अनुविभाग स्तर पर, सामग्री वितरण वापसी टीम का प्रशिक्षण 3 नवम्बर को प्रात: 11 बजे डॉ.

बिना अनुमति के प्रचार-प्रसार करने पर होगी कार्यवाही

छत्तीसगढ़ के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी की ओर से विडियो कांफ्रेस के माध्यम से जानकारी देते हुए बताया गया कि विज्ञापन, वालपेंटिंग के माध्यम से किसी के घर में नारा या स्लोगन बिना अनुमति के प्रसार-प्रसार किये जाने पर उनके खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएगी। विधानसभा निर्वाचन 2018 के तहत् बिना अनुमति के प्रसार-प्रसार करने पर आई.पी.सी.

हितग्राहियों को लाभान्वित करने का कार्य स्थगित

विधानसभा निर्वाचन 2018 के तहत् प्रदेश सहित जिले में भी आदर्श आचरण संहिता लागू हो गई है। इसके मद्देनजर श्रम विभाग के पंजीकृत निर्माण, असंगठित संगठित श्रमिकों के लिए संचालित विभिन्न योजनाओं से पंजीकृत श्रमिकों एवं उनके परिवार के सदस्यों को हितग्राही मूलक योजनाओं के तहत् लाभान्वित किए जाने का कार्य स्थगित कर दिया गया है। श्रम पदाधिकारी ने बताया कि आदर्श आचरण संहिता समाप्त होने तक यह कार्य पूर्णत: स्थगित रखा जाएगा।

निर्वाचन कत्र्तव्यों और दायित्वों का गंभीरतापूर्वक निर्वहन करें : कमिश्नर

संभागायुक्त दिलीप वासनीकर ने शुक्रवार को कलेक्टोरेट स्थित सभाकक्ष में विधानसभा निर्वाचन से जुड़े नोडल अधिकारियों की बैठक लेकर चुनाव के तैयारियों के संबंध में जानकारी ली। वासनीकर ने कहा कि परस्पर समन्वय स्थापित कर अधिकारी कर्तव्यनिष्ठा के साथ निर्वाचन के दायित्वों का बखूबी निर्वहन करें। निर्वाचन कार्यों के दौरान आचरण संहिता का पालन करें। उन्होंने कहा कि पुख्ता तैयारियों और संवेदनशील क्षेत्रों के हर मतदान केन्द्रों के लिए विशेष रणनीति बनाकर चुनौती का सामना निर्विध्न, निष्पक्ष, पारदर्शी और शांतिपूर्ण निर्वाचन संपन्न कराएं। कमिश्नर वासनीकर ने कहा कि अधिकारी निष्पक्ष रहे, निष्पक्ष दिखे, यह निर्वाचन